Menu
Menu
Menu
होम » कहानी

कहानी

रॉ ने जब भिंडरावाले का हेलीकॉप्टर से अपहरण करने की योजना बनाई: विवेचना

हरचरण सिंह लौंगोवाल और जरनैल सिंह भिंडरावाले स्वर्ण मंदिर से निकलते हुए इमेज स्रोत, SATPAL DANIS जब 1982 ख़त्म होते-होते पंजाब के हालात बेक़ाबू होने लगे तो रॉ के पूर्व प्रमुख रामनाथ काव ने भिंडरावाले को हेलीकॉप्टर ऑपरेशन के ज़रिए पहले चौक मेहता गुरुद्वारे और फिर बाद में स्वर्ण मंदिर से उठवा लेने के बारे में सोचना शुरू कर दिया था। इस बीच काव ने ब्रिटिश उच्चायोग में काम कर रहे ब्रिटिश ख़ुफ़िया एजेंसी एमआई-6 के दो जासूसों से अकेले में मुलाक़ात की थी. रॉ के पूर्व अतिरिक्त सचिव बी रमण ‘काव ब्वाएज़ ऑफ़ रॉ’ में लिखते हैं, “दिसंबर, 1983

ये हम ननद भाभी का मामला है!

Sanyukta Tyagi “भाभी……जरा अपनी वो सफेद वाली चप्पल मुझे दे दो आज कॉलेज में फंक्शन है और वह मेरी ड्रेस के साथ मैच करेंगी”। “अरे देने वाली क्या बात है….. कमरे में रखी है जा कर ले लो! “रसोई में चाय बनाती हुई रिया ने अपनी ननद पीहू को कहा। रिया की शादी पिछले ही साल साहिल से हुई है ,परिवार में सास नीलम, ससुर अरविंद और ननद पीहू है । अरविंद जी व्यापारी हैं और साहिल भी अपने पिता के साथ हाथ बटाँता है। नीलम जी एक सुलझी हुई महिला हैं। रिश्तो को कब छूट देनी है और कब

गाना शेयर कर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इंटरनैशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

खेल-कूद/ क्रिकेट – ‘मैं पल दो पल का शायर हूं…’ गाना शेयर कर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहा है। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने अंतराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया है। साथ ही साथ सुरेश रैना ने भी अपने सन्यास की घोषणा कर दी है जिससे उनके चाहने वाले काफी मायूस हैं। धोनी ने आधिकारिक सोशल मीडिया के जरिए संन्यास की घोषणा की है। धोनी टेस्ट क्रिकेट को पहले ही अलविदा कह चुके हैं। उन्होंने एक वीडियो शेयर किया, जिसमें बैकग्राउंड में मुकेश का गाया हुआ